Category Archives: Other Schemes

भौमिक तथा खनिकर्म खनिज साधन विभाग

उद्देश्य– प्रदेश के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग को गौण खनिज के पट्टों के आवंटन के क्षेत्र में आगे लाना। उत्खनिपट्टा हेतु खनिज– मध्यप्रदेश गौण खनिज नियम 1996 की अनुसूची- I में विर्निदिष्ट खनिज जैसे ग्रेनाइट, मार्बल, भट्टी में जलाकर चूने के निर्माण हेतु चूना पत्थर, फर्शी पत्थर, क्रेशर द्वारा गिट्टी निर्माण के उत्खनिपट्टा

Read More

राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम नई दिल्ली द्वारा संचालित योजनाएं

उद्देश्य- सफाई कामगार जो मैला सफाई जैसे अमानवीय कार्य में लगे है, को मुक्त कराकर उनके रूचि अनुसार धंधे में स्थापित करना। योजना का स्वरूप- यह निगम हितग्राही को छ: प्रतिशत साधारण वार्षिक ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराता है। कार्य जिसके लिए वित्तीय सहायता दी जा सकती है- ऑटो (डिलिवरी वेन) एवं ऑटो ट्रेलर।

Read More

रानी दुर्गावती अनु. जाति/जनजाति स्वरोजगार योजना

स्वयं का उद्योग सेवा एवं व्यवसाय प्रारंभ करने के लिये वित्तीय संस्थाओं द्वारा ऋण प्रदान किया जाता है। हितग्राहियों को स्वरोजगार में स्थापित होने के लिये स्वयं मार्जिन मनी लगाना पड़ती है, वे यह राशि लगाने में असमर्थ होते हैं। उस स्थिति में उन्हें मार्जिन मनी के रूप में सहायता प्रदान की जाती है। हितग्राही

Read More

दीनदयाल रोजगार योजना

उद्देश्य- प्रदेश के शिक्षित बेरोजगार युवक/युवतियों को उद्योग/सेवा/व्यवसाय के क्षेत्र में स्वरोजगार स्थापना के लिये बैंकों/वित्त संस्थाओं द्वारा दिये जाने वाले ऋण के विरुद्ध अपेक्षित मार्जिन मनी को जमा करने में सहायता करना है। पात्रता- मध्यप्रदेश के मूल निवासी वे आवेदक जिनकी आयु 18 से 40 वर्ष के मध्य है, 10वीं कक्षा या आई.टी.आई. उत्तीर्ण

Read More

प्रधानमंत्री रोज़गार योजना

उद्देश्य- शिक्षित बेरोज़गार युवकों को स्वयं का उद्योग/सेवा/व्यवसाय स्थापित करवाकर स्वरोज़गार उपलब्ध करवाना। योजना का स्वरूप और कार्यक्षेत्र- इस योजना में शिक्षित बेरोज़गारों को सभी आर्थिक रूप से योग्य गतिविधियों, जिसमें कृषि और सहायक गतिविधियाँ भी शामिल होती हैं, उनके लिये ऋण स्वीकृत किया जाता है। सीधे कृषि क्षेत्र में जैसे फसलों की खेती, खाद

Read More

वाहन ऋण योजना

उद्देश्य- ग्रामीण क्षेत्रों में परिवहन की सुविधाओं को विकसित करना। योजना का स्वरूप और कार्यक्षेत्र- व्यक्तिगत और व्यावसायिक हितग्राहियों को वाहन क्रय करने के लिए 10.00 लाख रुपये तक का ऋण प्रदाय किया जाता है। योजना का कार्यक्षेत्र संपूर्ण मध्यप्रदेश है। योजना क्रियान्वयन प्रक्रिया- प्रदेश के सभी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकों के माध्यम से इस

Read More

सामुदायिक विकास कार्य

योजना के तहत श्रममूलक सामुदायिक विकास कार्य के प्रावधान किये गये हैं। इसके तहत जल संरक्षण एवं संवर्धन, सूखा रोकने, वनरोपण/वृक्षारोपण, सिंचाई हेतु नहरें, लघु एवं माध्यम सिंचाई कार्य, परम्परागत बाढ़ नियंत्रण/सुरक्षा, जल जमाव क्षेत्रों में जल निकासी और बारह मासी सड़कों के रूप में ग्रामीण सड़क सम्पर्क के कार्य किये जाने का प्रावधान है।

Read More

कपिलधारा योजना

कृषि उत्पादन में सुनिश्चितता और कृषकों की आजीविका में गुणात्मक सुधार के लिये कपिलधारा योजना संचालित की गई है। योजना के तहत हितग्राही परिवार को कृषि भूमि हेतु सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। योजना में नवीन कुंआ-भूजल पुनर्भरण की व्यवस्था के साथ, खेत-तालाब, मैसेनरी चैक डेम, स्टाप डेम, आर.एम.एस. और लघु तालाब निर्माण का प्रावधान

Read More

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी स्कीम-मध्यप्रदेश

योजना का उद्देश्य- ग्रामीण क्षेत्र में निवास करने वाले परिवारों के अकुशल श्रम (मजदूरी) करने के इच्छुक वयस्क सदस्यों की आजीविका सुरक्षा बढ़ाना इस योजना का उद्देश्य है। यह योजना झाबुआ, मण्डला, उमरिया, शहडोल, बड़वानी, खरगोन, शिवपुरी, सीधी, टीकमगढ़, बालाघाट, छतरपुर, बैतूल, खण्डवा, श्योपुर, धार, सिवनी, डिण्डौरी, सतना, अनूपपुर, अशोक नगर, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा, दतिया, दमोह,

Read More